fbpx
Products
SHOPPING
INTRODUCTION

ONLINE LAW COURSES WITH CERTIFICATE BY ONLINE WORLD WIDE UNIVERSITY [UDEMY]

Published by deevaaanshientrepreneur on

ONLINE LAW COURSES WITH CERTIFICATE BY ONLINE WORLD WIDE UNIVERSITY [UDEMY]

CONSUMER LAW COURSE

Consumer case draft class, online case register like all commission forum ,case track status and more advance class

इस कोर्स में हम जानेगे कौन -से केस कंजूमर लॉ में आते है ?

कौन कंजूमर है और और कौन नहीं

लगभग हर कोई आज कल व्यस्त है और कंई लोग ट्रेवल आदि में तमाम खर्चे के कारण कंजूमर फॉर्म जोकि डिस्ट्रिक्ट फोरम है , स्टेट कंजूमर फोरम है,नेशनल कंजूमर फोरम है अब आपको वंहा जाकर केस दर्ज ,रजिस्टर करने की आवश्यकता नहीं |

आप कंही भी बैठे हो ,कंही भी हो ,किसी भी समय कर सकते है केस रजिस्टर और इस वीडियो में आपको ये भी सिखाया जाएगा की कैसे केस ड्राफ्ट करे कंजूमर केस के लिए ताकि केस ड्राफ्ट के साथ समय पर आप का केस रजिस्टर हो और न्याय मिले आपको और आप कंही भी बैठे उसे ट्रैक कर पाए ऑनलाइन |

प्रिंट आर्डर निकाल पाए आर्डर डिटेल जो जज द्वारा दी जाती है

केस क्यों डिसमिस हुआ ये भी आप ऑनलाइन देख पाएंगे इसके लिए आपको दुबारा कोर्ट जाने की आवश्यकता नहीं

और भी बहुत कुछ आप ऑनलाइन कंजूमर सेवा के बारे में इस कोर्स दौरान सीखेंगे जोकि आपके जीवन भर काम आएगा |

तो खरीदे कोर्स क्यों देरी कर रहे अब भी आप

जाने ऑनलाइन कंजूमर केस फाइल,केस ट्रैक स्टेटस ,केस ड्राफ्ट ,प्रिंट आर्डर जज द्वारा डाउनलोड और बहुत कुछ इसलिए ये कोर्स जीवन भर आपको फायदा देने वाला है |

Drafting and Filing Consumer Case Independently

This course has video lectures in Hindi and English, used alternatively while delivering. The Course will help you to understand consumer law in simple language and also sequence of documents and drafting with sample drafts is taught. Word Editable format of Complaint as well as Appeals is provided for future use.

  • How To File Consumer Complaint Online
  • Consumer Court Complaint Format
  • Fee For Consumer Court To File The Case
  • Consumer Forum Case Status
  • Consumer Court Helpline
  • Consumer Forum Email Id
  • National Consumer Forum
  • Jago Grahak Jago Programme
  • Complaint Register System
  • Customer Complaint Form
  • Where To Lodge Complaint Against Shopkeeper
  • E court Services Case Status
  • Employee Complaint Against Company In India
  • Online Complaint Portal
  • Consumer Forum Case Status
  • Consumer Rights Right To Seek Redressal
  • Consumer Forum Case Stages

Consumer Laws and Procedure

Consumer rights are the rights given to a “consumer” to protect him/her from being cheated by salesman/manufacturer. Consumer protection laws are designed to ensure fair trade competition and the free flow of truthful information in the marketplace.

The laws are designed to prevent businesses that engage in fraud or specified unfair practices from gaining an advantage over competitors and may provide additional protection for the weak and those unable to take care of themselves. Consumer Protection laws are a form of government regulation which aim to protect the rights of consumers.

For example, a government may require businesses to disclose detailed information about products particularly in areas where safety or public health is an issue, such as food. Consumer protection is linked to the idea of “consumer rights” (that consumers have various rights as consumers), and to the formation of consumer organizations which help consumers make better choices in the marketplace.

Consumer is defined as someone who acquires goods or services for direct use or ownership rather than for resale or use in production and manufacturing. Consumer interests can also be protected by promoting competition in the markets which directly and indirectly serve consumers, consistent with economic efficiency, but this topic is treated in Competition law.

The eight consumer rights are: Right to basic needs, Right to safety, Right to information, Right to choose, Right to representation, Right to redress, Right to consumer education, and Right to healthy environment.
How to Lodge a Consumer Complaint
To provide simple, speedy and inexpensive redressal of consumer disputes, the CPA envisages a 3-tier quasi-judicial machinery at the National, State and District levels.

National Consumer Dispute Redressal Commission, known as National Commission, deals with complaints involving costs and compensation higher than Rs. One Crore.

State Consumer Dispute Redressal Commission, known as State Commission, deals with complaints involving costs and compensation higher than Rs. Twenty Lakh and less than Rs. One Crore.

District Consumer Dispute Redressal Forum known as District Forum, deals with complaints involving costs and compensation less than Rs. Twenty Lakh. Consumers can file different types of complaints depending on their specific grievance by visiting the Consumer Court at the district, state or national level along with the documents required for filing the complaint. Following is a list of documents that the prospective complainants need to carry with them to the Consumer Court at the time of filing the complaint

Consumer Protection Law In India: The growing interdependence of the world economy and international character of many business practices have contributed to the development of universal emphasis on consumer rights protection and promotion.

What are duties of consumer?

consumer responsibilities include staying informed, reading and following instructions, using products and services properly, speaking out against wrong doing and lawfully purchasing goods and services.

 

THE INDIAN LEGAL STUDY- DIGITAL LAW

SAVE TIME,MONEY,EXPENSES AND DEVELOP YOUR LIFE

इस कोर्स करने का फायदा होगा की दैनिक जीवन की समस्या जो की आप  क़ानूनी ढंग से समझ पाएंगे और सुलझा पाएंगे |

FILE CASE -ONLINE ANYPLACE ,ANYTIME WITH ACKNOWLEDGEMENT AND TRACK STATUS

NATIONAL HUMAN RIGHT COMMISSION

NATIONAL WOMEN COMMISSION

CONSUMER CASE

FILE ONLINE CASE TO PRIME MINISTER AND PRESIDENT

PENSION RELATED CASE

E-COURT -HOW HELPFUL FOR US

ONLINE CASE FILE AND TRACK STATUS RELATED TO WOMEN,CHILD,TRANSGENDER

ONLINE FILE F.I.R AND FILE COMPLAINT TO F.I.R .

जिससे समय ,पैसा बचे और कम समय में हम इन समस्या से सुलझे  और अपना खुशहाल जीवन जी पाए | इसलिए पुलिस को घर बैठे कैसे कम्प्लेन करे?

बिना घर से या पुलिस स्टेशन जाये कैसे F.I.R करे ?

कैसे ZERO F.I.R करे

कैसे ACKNOWLEDGEMENT ले?

कैसे अपने सब सबूत जब हम समस्या में हो बिना पुलिस स्टेशन जाए,  रिपोर्ट कैसे करे ?

महिलाओ के साथ रेप ,छेड़छाड़ होती लेकिन हमे अपने क़ानूनी ज्ञान की समझ नहीं होती और बहुत कुछ जिस कारण समय पर हम कम्प्लेन नहीं कर पाते लेकिन इस कोर्स के बाद आप डिजिटल ढंग से कम्प्लेन कर पाएगी|

ऑनलाइन कम्प्लेन करे बिना बार-बार पुलिस स्टेशन के चक्र काटे और बिना समस्याओ के |

डिजिटल कम्प्लेन और ट्रैक स्टेटस और कम्प्लेन फाइल करे सबूत के साथ बिना किसी समस्या के |

HUMAN RIGHT सबके पास हैँ पर समय पर हम कम्प्लेन नहीं कर पाते |

डाकिये से पोस्ट कर कम्प्लेन कैसे करे?

रोज -रोज फिर सबूत भेजो और केस को ट्रैक करो काफी समस्या से भरा होता तो कैसे इन समस्या से राहत पाए ?

लेकिन अब इस कोर्स  के बाद आप कंही भी किसी समय अपनी कम्प्लेन फाइल को भेज, केस को ट्रैक कर पाएंगे और रसीद ऑनलाइन मिलेगी ताकि आपके पास जीवन भर ये सबूत रहे की आपने कम्प्लेन की थी ताकि कल दुबारा वो परेशान करे तो आपके पास सबूत हो |

CYBER CRIME

आज जैसे सोशल मीडिया पर परेशान करना ,बैंक से बिना पूछे पैसे निकलना ,पैसा का फ्रॉड ऑनलाइन, धोखाधड़ी और बहुत कुछ आम बात हो गए है |

| लेकिन समय पर हम केस फाइल नहीं कर पाते और इन्वेस्टीगेट और केस ट्रैक स्टेटस  तक नहीं कर पाते इसलिए अधिकतर केस हम कर ही नहीं करते,  पैसे तो गए और किसी ने परेशान किया छोडो अब इस चककर में मेरी जॉब ,समय खराब होगा |

कौन समय पर कंप्लेंट फाइल करेगा?

फिर उसकी रसीद और केस ट्रैक स्टेटस देगा?

इसलिए छोडो ये सब सोच हम पीछे हट जाते

लेकिन इस कोर्स बाद ये सब नहीं होगा |

प्रेजिडेंट को मर्सी पेटिशन और केस फाइल करना और प्राइम मिनिस्टर को भी ये सब हम सबूत के साथ ऑडियो,वीडियो कैसे भेजे?

जोकि ये साथ भेजना काफी महंगा होता और समय को बर्बाद करता लेकिन इस कोर्स में आपका समय ,पैसा बचे और सब सबूत समय पर भेजे जाये और कंप्लेंट केस रजिस्टर्ड समय पर हो उसकी रसीद ,ट्रैक सबूत  सब मिले मुमकिन होगा |

यदि बच्चे को परेशान देखे चाहे भीख  मांग रहा हो या घर नहीं हो उसके पास या शिक्षा का आभाव हो |

कुछ भी समस्या हो तो कँहा  से सहायता ले चाहे आप घटनास्थल  पर हो या नहीं कोई चिंता नहीं |

आप कम्प्लेन और सहायता ले पाएंगी

कोर्ट से सम्बन्धित समस्या हो या कोई भी समस्या हो आप सब कम्प्लेन ऑनलाइन फ़ाइल कर पाएंगे |

प्रधान-मंत्री को सलाह कैसे दे ?

कैसे उन्हें अपना टैलेंट दिखाए ?

ऑनलाइन कैसे कम्प्लेन फाइल करे सब होगा अब मुमकिन |

इस कोर्स में आप प्रधान मंत्री से लेकर वीमेन

,  ब्यूरो में जॉब ,इंटर्नशिप निकलती वंहा ऑनलाइन कैसे APPLY करे और बहुत कुछ और सीखेंगे जोकि जिंदगी भर आपके काम आएगा |

hello everyone

today we learn how to tackle our daily life problems in a legal way.

because many people suffer a lot in daily life but they have no money to pay travel expenses and many people live in restriction.

So if anyone is a victim of any crime or suffers any issues they can file a case online and this case file lodge after you got legal acknowledgement and track your complaint status anyplace any time .

in this course we learn about file case related to police when not file f.i.r and any complaint

prostitution case ,how to help any child if you see they are deprived from their right and when women suffer any issue face grievances in life like domestic case,rape ,sexual assault any other case. she can file case without go to police and file case anyplace ,anytime . after lodge this complaint you get acknowledgement on your mail and phone number.

if you want know about in deep about e-court file case and track status and all .in this course you learn also this

how to complain file online in national women commission ,national human right commission ,free legal aid aid at home and can counselling from lawyer anytime ,anyplace ,this is surely happen after completed course

you can lodge a case in the prime minister website ,president website and track the status of your complaint ,you can file a case if you suffer any cyber crime and related to pension problems also

In this course if the government does not reply to your complaint then you can file RTI and first appeal and complaint to upper authority to relieve your problem and justice thus who authority not give answer they can suspend and give penalty due to you suffering a lot from this careless of government authority..

Thus you learn a lot about your legal rights in your daily life but you suffer this due to having no knowledge.

you always consume a product but when we get deficiency ,damage problem and not refund on time we become silent due to we are helpless but you can file all cases on an online portal and this is not like a district consumer forum. This is mediation for consumer and manufacturer. so manufacturing improves in own-self and you get your justice on time without wasting money and your time .

so enjoy the course and tell me your review in the comment box.

RTI ACT 2005 [RIGHT TO INFORMATION]-INDIAN LAW

FIRST APPEAL, SECOND APPEAL COMPLAIN TO CENTRAL AND STATE INFORMATION COMMISSION

RTI Act was enacted in 2005.

इस कोर्स करने का फायदा होगा की दैनिक जीवन की समस्या जो की आप  क़ानूनी ढंग से समझ पाएंगे और सुलझा पाएंगे |

अक्सर सरकार से हमे अपना कोई उत्तर नहीं मिलता जिस कारण हम अपने ugc exam, ssc, government exam सब  और pension, scholarship, complaints case का समय पर उत्तर नहीं मिलता और कंप्लेंट स्टेटस आदि का  |

लेकिन अगर यहाँ से कोई जवाब नहीं मिलता है, तो लोग अक्सर चुपचाप बैठते हैं कि  कुछ नहीं होगा।

लेकिन अगर आप पहले RTI, FIRST APPEAL  और फिर शिकायत केंद्रीय सूचना आयोग में अपील करते हैं, तो कौन आपकी जानकारी देगा |

पेंशन, छात्रवृत्ति और आपके अधिकारों का उल्लंघन किया है, अब समस्याओं का सामना करना कर रहे है?

तो आप इससे उन समस्याओ से निजात पा सकेंगे ये कोर्स करने के बाद

अब उन की बारी है समस्या सहने की । ऐसा नहीं है कि आप असहाय है , इसके लिए हम सभी प्रक्रियाओं को ऑनलाइन करने में सक्षम होंगे ताकि आपके डाकिया का खर्च भी बच जाए। ऑफ़लाइन उन लोगों के लिए कक्षा होगी जो स्पीड पोस्ट करना चाहते हैं।

कक्षा के दौरान, आपको एक प्रारूप दिया जाएगा ताकि आप भी बाद में कभी भी अपनी आर.टी.आई कर सकें,  फर्स्ट अपील, सेकंड   अपील कर सकते हैं और बिना किसी हिचकिचाहट और भय के आर.टी.आई दाखिल कर सकते हैं ताकि आपको समय-समय पर मिलने वाली जानकारियां आपके लिए फायदेमंद रहें।

इस वर्ग में, आप आर.टी.आई [सूचना का अधिकार] से अपनी जानकारी लेंगे, यदि वे जानकारी नहीं देते हैं, तो उन्हें 25000 रुपये का जुर्माना लगेगा।

इन सबसे और सब जानकारी से और आपके पास मौजूद सभी एविडेंस जोकि होने चाहिए कागज़ी तब समस्याओं की जानकारी देने के लिए अधिकारी बाधित होंगे और आप इस से डरेंगे, कि वे आपकी जानकारी में देरी करेंगे या जवाब नहीं देंगे, तो अधिकारियों को भुगतान करना पड़ेगा केवल उनकी वजह से हुयी परेशानी की वजह से | इस अपीलकर्ता अपनी भरपाई कष्ट की समय पर कर पाए जोकि ये सभी समस्याएं हुईं जिनके लिए वे सभी अधिकारी जिम्मेदार हैं।

इस कोर्स में आरटीआई कई विशेषज्ञ पुस्तकें, संबंधित लेख और यदि आप भी आर.टी.आई चाहते हैं, तो आप कार्यकर्ता की सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो कैसे करें? इसके प्रति आपको क्लॉस के वीडियो के दौरान भी मिलेगा सभी जानकारिया आपके मतलब की | ताकि आपको आपकी जानकारी, नौकरी पाने का अवसर, और यदि आपकी किसी परीक्षा का परिणाम नहीं मिल रहा है, तो छात्रवृत्ति में देरी हो रही है, यह आपको समय देगा अधिकारी उत्तर ताकि आपका कार्य ना खराब हो और समस्या फालतू की ना सहन करनी पड़े और आपका ये सब

अधिकार है जिससे आप आज तक वंचित थे ।

DEEVAAANSHI JI

WEBSITE-WWW.DEEVAAANSHI.COM

RTI Act was enacted in 2005.

Advance legal study is not our aim in this, the purpose of this course is to give you legal knowledge so that you do not strike a lawyer and you get counseling at the right time and there is a case file in which you also have knowledge so that the lawyer also does not cheat you and does not budge. To make.

Often we do not get any answer from the government, due to which we do not get timely reply to our ugc exam, ssc, government exam all and pension, scholarship, complaints case.

But if there is no answer from here, people often sit quietly thinking that nothing will happen to themselves.

But if you appeal the complaint first and then to the Central Information Commission, then who will give your information?

Pension, scholarship and your rights have been violated, now you are facing problems, then you will be able to get rid of those problems.

Now it is their turn to bear the problem. It is not that you are helpless, for this we will be able to do all the processes online so that your postman’s expenses are also saved. Offline will be a class for those who want to post speed. During the class, you will be given a format so that you too can do your RTI anytime later. You can also get information and file RTI without any hesitation and fear so that the information you get from time to time will be beneficial for you. In this category, you can get RTI [information Authority] will take their information, if they do not provide information, then they will face a fine of Rs 25000. With all this and all the information and all the evidences that you should have, then the paper will be problems. Officers will be shown to the officer and that they will delay your information you will be afraid of this, or will not respond, so officials will have to pay only because of the difficulty arises because of them | This appellant was able to make up for the pain caused by all these problems for which all those officers are responsible. In this course, RTI has many expert books, related articles and if you also want RTI, then you will get the worker’s government How to do if you want to work? During this, you will get all the information about Claus during your video. So that you get your information, job opportunity, and if any of your exams are not getting results, then the scholarship is delayed, it will give you time to answer the officer so that your work is not bad and the problem is not to be wasted. And all of this

The right that you were deprived of till today.

DEEVAAANSHI JI

WEBSITE-WWW.DEEVAAANSHI.COM

INDIAN LEGAL STUDIES PART [1] ONLINE FREE QUERY FROM LAWYER
Legal Aid Knowledge Who helpful In Your Grievances Time When All One No Help.

इंडियन लीगल स्टडीज इंडियन के लिए जरूरी है क्यूंकि हर इंडियन जब तक अपने अधिकार नहीं जानेगा | तब तक एक ग्राहक ,एक सामाजिक प्राणी के रूप में परेशान होता रहेगा जैसे की हम जब भी कोई सामान हम लेते यदि सामान खराब निकल जाए ,या डिफेक्टिव हो या समय पर रिफंड न मिले या समय पर हमारी सर्विस हमे ना मिले ऐसी तमाम दिक्क्त एक ग्राहक की होती |

एक सामाजिक प्राणी कभी घर ,कभी बाहर से सताया जा रहा होता और क़ानूनी समझ का ना पता होना एक बड़ा समस्या के रूप में निकल आता क्यूंकि हर कोई उसका शोषण कर पाता और हम समय पर कार्येवाही नही कर पाते और दुखी होकर इसे ही अपनी तकदीर समझ हार मान लेते और दुष्ट इसे हमारी कमजोरी समझ परेशान करता रहता।

कई घर में बाहर निकलने पर पाबंदी होती | बच्चे ,बुड्ढे ,नारी तो वो अपनी समस्या खुल कर नहीं बता पाते नाही किसकी सहायता ले पाते और आज का समाज भी इतना विश्वसनीय नहीं रहा इसलिए जरूरत है सरकार की मदद की |

क्योंकि ना ही वो आपकी है ना ही उस दुष्ट की इसलिए आप फ्री लीगल ऐड से सहायता ले सकते है इसमें निर्बल ,कमजोर वर्ग को सहायता सरकार खुद देती है | अक्सर बार-बार हम लीगल ऐड हेतु फॉर्म भरते लेकिन कई राज्य,जिले में कोर्ट के कर्मचारी समय पर सेवा नहीं देते इसलिए आप लीगल ऐड का क़ानूनी फॉर्म ऑनलाइन भर कर उसकी रसीद ले कर उसमे अपने डॉक्यूमेंट ऑनलाइन जमा कर कोर्ट में वो रसीद दिखा कर सेवा ले सकते है जिसमे वकील से लेकर ,डक्युमेंट्स सबका खर्चा सरकार वहन करती है |

इसलिए जो भी मजबूर है की घर से बाहर जाकर नहीं फॉर्म फइल कर सकता या फइल करने बावजूद भी सेवा समय पर नहीं मिल रही है या वे किसी कारण से व्यस्त है तो वो सब ऑनलाइन फॉर्म भर सकते है ,क़ानूनी मुफ्त सलाह ले सकते है किसी भी समय , कंही भी |

जिससे आप क़ानूनी जानकारी ले समस्या को बेहतर सुलझा पाएंगी और अच्छा जीवन -यापन कर पाएंगे |

 


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error

Enjoy this blog? Please spread the word :)