When police refuse for complain / F.I.R

देखिये हर कोई अपना रिकॉर्ड अच्छा रखना चाहते है पुलिस विभाग में इसलिए आपकी first information report नहीं लिखते और कार्येवहि नहीं करते |

आप उनके प्रमोशन ,इन्क्रीमेंट को रोक सकते है आप इस गलत व्यवहार ,लापरवाही के कारण |

देखिये  सबसे पहलेfirst information report  का प्रार्थ ना पत्र होना चाहिए साथ में आपके पास |

उसकी फोटो कॉपी और प्राप्ति रेसीव ले  ताकि एविडेंस हो आपके पास की आपने संज्ञेय अपराध की कम्प्लेन की थी | और फिर भी ना हो कुछ तो पुलिस अधीक्सक को और यदि  हैंड से दे  तो तीन कॉपी ले एक sp ,डिस्पैच सेक्शन तीसरी कॉपी खुद रखे एक रिकॉर्ड आपके पास भी रहे क्या कम्प्लेन की थी आपने |
आप स्पीड पोस्ट भी कर सकते है जोकि एविडेंस आपके काम आएगा हमेशा आपके पास ट्रैक रिकॉर्ड रहेगा की आपने SP,SHO को कम्प्लेन की पर कार्येवहि नहीं हुयी |
हाई कोर्ट को भी आप याचिका कर सकते सेक्शन 31 के तहत संज्ञेय  अपराध  और ऑफ आई आर ना करे तो आप सेक्शन 36 crpc के  अनुसार आप djp से लेकर sho के एक्शन होगा

आप 156 [3 ] crpc के अनुसार आप district magistrate  को भी बता सकते हैfirst information report  करा सकते है सबसे पहला हथियार हाई कोर्ट जाने से पहले |

 

Leave a Reply